होम / पोस्ट

यहां प्लाज्मा डोनेट करने के नाम पर ठगी कर रहा था शातिर, पुलिस ने किया गिरफ्तार, ये है पूरा मामला

देहरादून : कोरोना महामारी में कुछ लोग अब तक जीवनरक्षक दवाइयों व आक्सीजन सिलेंडर के नाम पर कालाबाजारी कर रहे थे, लेकिन अब प्लाज्मा के नाम पर भी पैसे ठगने शुरू कर दिए है। मामला उत्तराखंड की राजधानी देहरादून का है। आराघर चौकी पुलिस ने युवक की शिकायत पर मुकदमा दर्ज करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया। 
दरअसल, शुक्रवार को कार्तिक निवासी 97 बलवीर रोड डालनवाला ने आराघर पुलिस चौकी में तहरीर दी कि उनकी माता कोरोना संक्रमित है और दून अस्पताल में आइसीयू वार्ड में दाखिल है। हालत गंभीर होने के कारण चिकित्सकों ने उनके लिए प्लाज्मा की आवश्यकता बताई। कार्तिक ने प्लाज्मा के लिए काफी अस्पतालों व अन्य जगह प्रयाए किए, लेकिन कहीं भी उन्हें प्लाज्मा नहीं मिला। 
ऐसे में कार्तिक ने सोशल साइट पर यह जानकारी दी और प्लाज़्मा के लिए मदद की मांग की। गुरुवार को शाम को एक व्यक्ति ने फोन किया कि उसका नाम गुरु साजन सिंह है। वह प्लाज्मा उपलब्ध करा सकता है। आवेदक को मदद के लिए कॉल आया और 2500 रुपए की मांग करते हुए प्लाजा देने की बात कही। आर्थिक तंगी में चल रहे कार्तिक ने अपनी मां की जान बचाने के लिए पहले उसके खाते में 300 रुपये डाले। और बाकी पैसे प्लाज्मा मिलने के बाद देने को कहा। लेकिन इसके बाद आरोपी उसे पैसों के लिए लगातार कॉल करता रहा। 
इसके बाद आरोपित ने सोशल मीडिया पर बनाए गए मैसेज में कार्तिक का मोबाइल नंबर हटा कर अपना नंबर डालकर सोशल मीडिया पर इधर-उधर मैसेज भेजता रहा। इस दौरान वह कई और लोगों से भी पैसों की मांग करता रहा। 
शिकायत के आधार पर चौकी प्रभारी आराघर महावीर सिंह सजवान ने आरोपित को तहसील चौक के पास से पकड़ लिया। पूछताछ में आरोपित ने अपना नाम गुरु साजन सिंह बख्शी निवासी मुन्नू गंज बताया। 
आरोपित ने बताया कि उसने एक ग्रुप में अपना नंबर जुड़वा रखा है। इसमें वह दावा कर रहा था कि आइसीयू, बेड व प्लाज्मा के लिए उससे संपर्क कर सकते हैं। एसपी सिटी ने बताया कि ग्रुप के बारे में जानकारी हासिल की जा रही है। अब पुलिस इस मामले में और ठगों की जांच कर रही है।

5732

0 comment

एक टिप्पणी छोड़ें